[t4b-ticker]

सिविल लाइन ग्रीन पार्क में सनसनीखेज दिल दहला देने वाली लूट कांड का पर्दाफाश खुलासा,बिलासपुर पुलिस की कार्यवाही
पीड़िता को घर में बांधकर लूट करने वाले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बिलासपुर

1.बिलासपुर पुलिस की जांच में गठित टीम की मेहनत ने दिलाई सफलता ,
2.घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिंग की जांच की गई
4.प्रकरण में फॉरेंसिक भौतिक तकनीकी सहित सभी पहलुओं का किया गया सूक्ष्मता से अध्ययन ,
5.पीडीआर के 10,000 से अधिक नंबरों का एवं 50 से अधिक मोबाइल नंबरों का सीडीआर एनालिसिस से मिली सफलता
6.प्रकरण में पूर्व नौकर ही निकला मास्टरमाइंड
7.पूर्व नौकर ने पूर्व शातिर चोर के साथ किया था वारदात को अंजाम
8.बिलासपुर शहर के बीच में हुई इस घटना पर पुलिस ने झोंकी ताकत
9.10 दिनों की अथक मेहनत ने दिलाई सफलता
10.आठ अलग-अलग टीमें गठित कर जानकारी की जा रही थी ताशतीफ
11.पुलिस की संयुक्त कार्यवाही ने दिलाई सफलता लूटे गए सोने के जेवर वजनी करीब 18 तोला चांदी के जेवर 57 तोला एवं दैनिक उपयोग के सामग्री कुल कीमती करीबन 1000000किया गया बरामद ,
12.टीम की प्रशंसा करते हुए आदरणीय DGP महोदय के द्वारा ₹50000 एवं IG साहब के द्वारा ₹20000 नगद इनाम की घोषणा

पुलिस ने घटनास्थल की बारीकी से निरीक्षण कर प्रार्थी एवं घरवालों से प्रारंभिक पूछताछ किया गया घटनास्थल की बारीकी से निरीक्षण हेतु फॉरेंसिक एक्सपर्ट अंगूर चिन्ह विशेषज्ञ एवं खोजी डाक को तत्काल घटनास्थल बुला कर आवश्यक साक्ष्य एकत्र कर लूट के आरोपियों एवं लूटे गए सामग्री का पता तलाश किया गया तत्पश्चात श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय के द्वारा घटना को गंभीरता से लेते हुए अपराध अनुसंधान तकनीकी साक्षी की साख सहित पूरे अपराधिक गतिविधियों से संलिप्त लोगों की जांच हेतु आठ अलग-अलग टीम अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय शहर एवं नगर पुलिस अधीक्षक से लाइन के नेतृत्व में गठित किए गठित टीम का स्वयं बैठक आहूत कर सभी टीमों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए टीम को अलग-अलग कार्य जिसमें टीम को सीसीटीवी फुटेज देखना आस पास पड़ोसी एवं घरवालों का कथन प्रार्थी के कपड़ा दुकान में कार्य करने वाले वर्तमान एवं कार्य छोड़ चुके नौकरों का लिस्ट तैयार कर पूछताछ करना संदेशों एवं पूर्व के लूट चोरी के आरोपियों का पता तलाश कर कथन लेने रिश्तेदार कम काम करने वाली बाई एवं घर पर आने जाने वाले लोगों का कथन हेतु निर्देश प्राप्त कर सभी आठ टीमें लगातार 10 दिनों तक फरार आरोपी एवं लूटे गए सामान के संबंध में सूचना एकत्रित करते हुए एक कड़ी जोड़कर कॉलोनी में लगे सीसीटीवी फुटेज की तस्दीक की की गई प्रार्थी के परिजनों द्वारा बताए गए समस्त जानकारी की सूक्ष्मता से तस्दीक की गई सभी टीमों के द्वारा की गई कार्यवाही से प्रतिदिन वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया प्रत्येक टीमों के कारों की सूक्ष्मता से अवलोकन एवं आवश्यक दिशा निर्देश स्वयं बिलासपुर पुलिस कप्तान श्रीमान प्रशांत अग्रवाल के द्वारा की जा रही थी इस दौरान 100 से अधिक चोरी और लूट के अपराधियों की तस्दीक की की गई शहर में आवागमन करने वाले बाहरी राज्य के लोगों पर भी निगरानी रखी गई उसकी सर्दी की की गई घटना के पूर्व एवं बात के शहर के सभी होटलों एवं ढाबा की सीसीटीवी फुटेज तीतर्दी किया गया विवेचना दौरान 7 से अधिक लोगों का कथन लिया गया यह चना के सभी वैज्ञानिक आरएनसी तकनीकी सभी अनुसंधान के पहलुओं पर बेचना की गई इस बीच बिलासपुर पुलिस के द्वारा परिजनों के बताए कर्मचारियों की सूची के अलावा अन्य लोगों के संबंध में भी जानकारी एकत्र की जा रही थी जो पीड़ित परिवारों के संपर्क में रहते थे एवं उसके घर की गतिविधियों को अच्छे से जानते थे प्रारंभ में पीड़ित परिजनों द्वारा दी गई सूची में कुछ ना हमसे छूट गए थे लेकिन बिलासपुर पुलिस के द्वारा सभी पहलुओं का सूक्ष्मता से जांच की जा रही थी टेक्निकल एनालिसिस एवं कई संदिग्धों से पूछताछ के आधार पर एक कर्मचारी जो पूर्व में पीड़ित परिवार की दुकान करबला रोड स्थित आरआर कलेक्शन में कार्य कर चुका है के संबंध में जानकारी प्राप्त हुई जिस पर एक विशेष टीम लगाकर संदेही युवक रवि भोंसले पिता निखिल भोंसले उम्र 20 साल निवासी टिकरापारा पुराना हाईकोर्ट के पीछे अटल आवास मकान नंबर 24 थाना सिटी कोतवाली के संबंध में जानकारी एकत्र करने लगाई गई टीम के द्वारा संपूर्ण जानकारी एकत्र की गई एवं भी लगाए गए ही आरोपियों के संबंध में प्राप्त जानकारी के आधार पर तसदी की हेतु आरोपी की तलाश प्रारंभ किया गया टीम के द्वारा घेराबंदी कर टिकरापारा पुराना हाईकोर्ट के पीछे घेराबंदी कर रवि भोंसले एवं उसके साथी को पकड़कर अभिरक्षा में लिया गया एवं थाना लाकर कड़ाई से पूछताछ करने पर घटना का शिकार किए जिनके पृथक पृथक मेमोरेंडम कथन लेने पर रवि भोंसले ने बताया कि करीबन 1 साल पहले आरके कलेक्शन में काम करता था जो विगत दो-तीन साल तक काम किया हूं काम के दौरान ही मुझे सेट के द्वारा अपने किराए के मकान ग्रीन पार्क कॉलोनी में भेजने पर आता जाता था इस कारण मुझे उनके घर के सभी सदस्यों के बारे में जानकारी है इसी बात से विवाद होने से काम छोड़ दिया हूं मोहल्ले के मेरा दोस्त दीपक वादव जो पूर्व में हमारे मोहल्ले में रहता था जो वर्तमान में कोनी अटल आवास में रहता है जो बीच बीच में मिलने आता जाता है एवं बातचीत होते रहता है दीपक कुछ साल पहले मीनाक्षी ट्रेडर्स यहां चोरी के मामले में जेल जा चुका था मैं वह मेरा दोस्त दीपक दोनों मिलकर आरआर कलेक्शन कपड़ा दुकान का मालिक मनोहर सेठ के घर ग्रीन पार्क के मकान में चोरी करने के लिए प्लान करके शाम को 15 दिसंबर के दो-तीन दिन पहले जाकर वहां पर रेकी किए फिर दिनांक 15:12 2020 को शाम करीबन 4:30 बजे चोरी करने का प्लान करते हुए मैं और दीपक पैदल सिंह टॉकीज सीएमडी चौक मैग्नेटो मॉल तालापारा बजरंग चौक से भारती नगर चौक होते हुए व्यापार विहार रोड से मनोहर लाल सेठ के घर ग्रीन पार्क कॉलोनी के घर गए जो हम लोग गार्डन के सामने थोड़ा देर जाकर रुके और वहां से मनोहर सेठ अपनी स्कूटी से कहीं चला गया तो समय करीबन 7:00 बजे मनोहर सेठ के घर में लगा हुआ खाली जमीन के दीवार फांद कर हम दोनों बावरी अंदर गए और देखें कि आंटी किचन में खाना बना रही थी और थोड़ी देर बाद ही कमरे में जाकर मोबाइल चलाने लगी उसी दौरान मैं और दीपक कमरे अंदर घुसकर दीपक ने आंटी टीमों को दबाया और मैं दोनों हाथ पीछे से और पैर को वहां पड़े वायाकॉम बेल्ट से बांध दिया और पहने हुए सोने के कंगन बाली सोने की चैन को निकाल लिए जो आंटी चिल्लाने की कोशिश की तो मैं उसे घुसे से उसके सिर को मारा तो पलंग के नीचे फर्श में गिर गई और गिरने से उसके सिर में चोट आने से बेहोश हो गई हो गई फिर हम दोनों अलमारी मेल्लार्क नहीं होने से अलमारी में रखे सोने-चांदी के जेवर व नगदी करीबन ₹14000 को वहां रखे कपड़े जैसे पीले रंग के छैला में रखकर पैदल पैदल व्यापार विहार रोड से भाग गए लुटे हुए पैसे को आधा-आधा बांट लिए जिसमें खाने-पीने में खर्च कर चुके हैं तथा सोने चांदी के समान को बेचने के फिराक में थे परंतु पुलिस निरंतर धरपकड़ पूछताछ कर रही थी इस कारण से हम दोनों जगह बदल बदल कर पकड़ आने के डर से छुपे हुए थे एवं समान को भी छुपा कर रखे हुए थे संपूर्ण करवा ही श्रीमान पुलिस अधीक्षक बिलासपुर के निर्देशन पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर श्री उमेश कश्यप नगर पुलिस अधीक्षक श्री आर एन यादव थाना प्रभारी सिविल लाइन थाना प्रभारी सिटी कोतवाली कलीम खान थाना प्रभारी तोरवा प्रवेश तिवारी उप निरीक्षक मनोज पटेल मोहन भारद्वाज साइबर से उप निरीक्षक मनोज नायक अजय वारे सागर पाठक सावनी जितेश सिंह भरत राठौर हेमंत सिंह प्रधान आरक्षक शोभित कवर चंद्रकांत डहरिया अशोक कश्यप आरक्षक सरफराज खान जय साहू देवेंद्र दुबे विकास यादव अविनाश पांडे संजीव जांगड़े मनोज बघेल गोकुल जांगड़े नूर उल कादरी सोनू पाल तस्वीर पोर्ते अशफाक अली साजिद खान दीपक उपाध्याय राहुल सिंह एवं अन्य की महत्वपूर्ण एवं सराहनीय भूमिका रहा कारवाही से खुश होकर श्रीमान पुलिस महा निरीक्षक श्री दीपांशु काबरा के द्वारा ₹20000 नगद एवं श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय के द्वारा ₹10000 नगद इनाम दिया गया