Breaking News

कोरोना: बिना टेस्ट के ही सबको निगेटिव बताता था ये हॉस्पिटल, मालिक अरेस्ट

पूरी दुनिया में जहां एक तरफ कोरोना वायरस की टेस्टिंग को लेकर लोगों में मारामारी है, वहीं दूसरी तरफ इसकी फर्जी रिपोर्ट बनाने का काम भी धड़ल्ले से चल रहा है. ऐसा ही एक मामला बांग्लादेश का है, जहां हजारों की संख्या में कोरोना वायरस के फर्जी निगेटिव टेस्ट रिपोर्ट बांटने के आरोप में पुलिस ने अस्पताल के मालिक को गिरफ्तार कर लिया है.
पुलिस ने बताया कि अस्पताल के इस मालिक ने अपने दो क्लीनिकों में मरीजों को हजारों की संख्या में कोरोना वायरस के फर्जी निगेटिव रिपोर्ट बनाकर दिए. इतना ही नहीं पकड़े जाने के डर से ये आरोपी बुर्का पहनकर बांग्लादेश से भारत भागने की फिराक में था, तभी पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया.
42 साल के इस आरोपी का नाम मोहम्मद शाहिद है और वो मरीजों का टेस्ट किए बिना ही उन्हें संक्रमणमुक्त बताते हुए फेक सर्टिफिकेट दे रहा था. पुलिस पिछले 9 दिनों से इस आरोपी की तलाश में थी.
इस घोटाले के सिलसिले में पिछले कुछ दिनों में अधिकारियों ने एक दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में लिया है. विशेषज्ञों ने चेतावनी देते हुए कहा कि इस क्लीनिक द्वारा जारी फर्जी सर्टिफिकेट की वजह से देश में स्थिति और खराब हो रही है.
रैपिड एक्शन बटालियन के प्रवक्ता कर्नल आशिक बिल्ला ने एएफपी समाचार एजेंसी को बताया, ‘उसे बॉर्डर पर नदी किनारे से गिरफ्तार किया गया. वो बुर्का पहनकर भारत भागने की कोशिश कर रहा था.’
आशिक बिल्ला ने बताया, ‘मोहम्मद शाहिद के अस्पतालों ने 10,500 कोरोना वायरस टेस्ट किए, जिनमें से 4,200 सही थे जबकि बाकी, 6,300 रिपोर्ट बिना टेस्ट के ही दे दिए गए थे.’
इसके अलावा पुलिस ने एक अन्य महिला डॉक्टर और उनके पति को भी गिरफ्तार किया है. इन पर भी ढाका लैब में कोरोना वायरस के हजारों नकली सर्टिफिकेट जारी करने का आरोप है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *