Breaking News

छत्तीसगढ़:पुलिस द्वारा अंधे कत्ल की गुत्थी 48 घंटे के अंदर सुलझाया

महासमुन्द

एक अज्ञात पुरुष की लाश निसदा नहर पानी में डूबा हुआ है , तथा मृतक को बाहर से लाकर पानी में डाला गया है , कि सूचना पर मर्ग क्रमांक 109/2020 कायम कर जांच पंचनामा कार्यवाही कर अज्ञात मृतक के राय का पी ० एम ० कराया गया । अज्ञात मृतक की पहचान कार्यवाही की गई कोई पहचान नहीं होने से आसपास के ग्रामवासी एवं समाचार पत्रो तथा आसपास के थाना में अज्ञात पुरुष को शव की छायाचित्र की पहचान हेतु भेजी गई । जो दिनांक 14.10.2020 को जी 0 के 0 इंटरप्राईजश के मालिक निखिल अग्रवाल पिता ओमप्रकाश अग्रवाल एवं मदनमोहन अग्रयाल पिता ओमप्रकाश अग्रवाल निवासी शंकर नगर रायपुर के द्वारा छायाचित्र को देखकर मृतक विद्या प्रसाद पिता रामपाल का होना तथा अपनी कंपनी में चौकीदारी का काम करना एवं दिनांक 11.10.2020 से कंपनी में काम पर नहीं आना बताया गया । दिनांक 14.10.2020 को मृतक का पी ० एम रिपोर्ट प्राप्त हुआ जिसमें पी ० एम ० कार्या डॉक्टर द्वारा कपड़ा से गला को कसकर गला घोंटकर हत्या करना यताया । मर्ग जांच पर अज्ञात आरोपी द्वारा मृतक विद्या प्रसाद की मृत्यु कपडा से कसकर गला घोंट कर हत्या कर साक्ष्य छुपाने की नियत से पानी में डाल देना पाये जाने से अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अपराध कमांक 467/2020 वारा 302 , 201 नादवि कायम कर विवेचना में लिया गया । श्रीमान् वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय श्री अजय यादव भापुस एवं श्रीमान् अतिरिक्त पुलिस अधीक्षल महोदय ग्रामीण श्री तारकेश्वर पटेल तथा श्रीमान नगर पुलिस अधीक्षक नहोदय माना भी एल ० सी ० पोहले के मार्गदर्शन पर थाना स्तर पर टीम गठित कर अज्ञात आरोपियों के सच्चे में जी 0 के 0 कंपनी के सीसीटीव्ही फुटेज तथा पास के पेट्रोल पम्प में लगे सीसीटीव्ही फुटेज में जी 0 के 0 कंपनी में कार्यरत् कपिल कोसले पिता बंशीलाल कोसले उन 26 वर्ष साकिन गांधीग्राम नकटा थाना मंदिरहसौद जिला रायपुर को संदिग्ध पाये जाने से पुछताछ किया गया जो पुछताछ पर गुमराह कर रहा था जिसे जयती से पुछताछ करने पर अपने साथी दुर्गेश यादव पिता मोहन यादव उम्र 25 वर्ष साकिन गांधीग्राम नकटा थाना मंदिरहसौद एवं गजेन्द्र सिंह टण्डन उर्फ शेखर टण्डन पिता विसहतराम टण्डन उन 24 वर्ष गांधीग्राम नकटा थाना मंदिरइसी जिला रायपुर के मिलकर मृतक विद्या प्रसाद को आरंग ले जाकर चारो निलकर शराब पीय और कापेल कोसले एवं उनके साथी दुर्गेश यादव , शेखर टण्डन उर्फ गजेन्द्र के द्वारा निसदा नहर के पार में मृतक के गला को दुर्गेश यादव के गमछा से गला घोंटकर हत्या किये और साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य से निसदा नहर के पानी में डाल दिये । आरोपी कपिल कोसले जो मृतक से पैसा लिया था और मृतक का मोटर सायकल कनांक सीजी 04 -6311 एवं मृतक का मोबाइल को अपने घर में लाकर छुपा दिया था । तथा आरोपी दुर्गेश यादव जिस गमछा से गला बॉटा था उसे घटना स्थल के पास ही फेंक दिया था , आरोपी शेखर उर्फ गजेन्द्र टण्डन जिस वाहन से मृतक को नंदिरहसीद से आरंग लेकर आया था जिसे सभी आरोपी उपरोक्त वस्तुओ एवं मोटर सायकल को जप्त कराये । आरापीगणों के विरूद्ध धारा 302 , 201 , 34 भादवि के तहत गिरफ्तार किया गया है । जो न्यायालय पेशकर न्यायिक रिमांड में भेजा जायेगा । उपरोक्त अज्ञात मृतक पुरूष की अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने में अहम भूमिका निरीक्षक थाना प्रभारी एल ० डी ० दीवान , उपनिरीक्षक त्रिलोक प्रधान , आरक्षक ओमप्रकाश वर्मा , राकेश सिंह , साधेसिंह , नेमीचंद जांगड़े , गुलाब वर्मा , जोहितरान लहरे , ओकांरप्रसाद साहू