Breaking News

भैया-भैया कहकर गिड़गिड़ाती रही छात्रा, हैवानों का नही पसीजा दिल

झांसी: 
अनलॉक के बाद बेटी ने महीनों बाद घर से निकलना शुरू किया था। वो अपनी पढ़ाई नियमित शुरू होने से खुश थी लेकिन झांसी में दिनदहाड़े शहर के बीचोबीच सरकारी पॉलीटेक्निक कॉलेज के हॉस्टल में कानून व्यवस्था और सुरक्षा के तमाम दावों की धज्जियां उड़ा दी गईं। 

आपको बता दें झांसी में पॉलीटेक्निक के करीब 10 से 15 छात्र कोचिंग से लौट रही छात्रा अपने दोस्त से बात कर रही थी। इसी बीच उन्हें हॉस्टल में खींचकर ले गए। सड़क से हॉस्टल के अदंर तक बेटी की चीखें किसी को सुनाई नहीं दीं। छात्रा गिड़गिड़ाते रही, लेकिन किसी का दिल नहीं पसीजा। उसने आरोपी छात्रों को भैया तक कहकर संबोधित किया और पैरों पर गिरकर गिड़गिड़ाती रही, लेकिन आरोपियों पर हैवानियत सवार थी।

लड़की को घसीटकर हॉस्टल में एकांत में ले गया और उसने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दे डाला। बाकी आरोपी भी इसी तैयारी में थे। लेकिन, ऐन वक्त पर पुलिस का एक सिपाही वहां पहुंच गया, जिसे देखकर आरोपी भाग निकले ।