Breaking News

बिलासपुर हत्याकांड: भतीजे ने किया था चाचा का क़त्ल,आरोपी गिरफ्तार

बिलासपुर

चिल्हाटी क्षेत्र हुई सनसनीखेज वारदात को सरकंडा पुलिस ने चंद घण्टों में ही सुलझा लिया है। आपको बता दें आज सुबह चिल्हाटी क्षेत्र में अज्ञात आरोपियों ने हत्या की घटना को अंजाम दिया था, जिसमे आरोपी ने पति-पत्नी पर धारदार हथियार से वार कर पति तिरिथ राम यादव को मौत के घाट उतार दिया था साथ ही उसकी पत्नी पर भी जानलेवा हमला कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया था। वही इस हत्याकांड के बाद क्षेत्र में रहने वाले लोग दहशतजदा थे की आखिर किसने इस हत्या को अंजाम दिया होगा। इस दौरान पुलिस भी हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने एड़ी चोटी का जोर लगा रही थी और आखिरकार सरकंडा पुलिस को आरोपियों को पकड़ने में सफलता मिल ही गई।
भतीजे ने उतारा था चाचा को मौत के घाट
चिल्हाटी में हुई हत्या की वारदात में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है, जिसमे पति-पत्नी पर धारदार हथियार से हमला करने वाले आरोपी पुलिस के पकड़ में आ चुके है। ये आरोपी कोई और नही बल्कि मृतक के भतीजे है, जो अपने चाचा के रोक टोक से आक्रोशित थे, विगत दिनों भी शराब लाकर पीने की बात पर चाचा तीरथ राम ने भतीजे मुकेश उर्फ मुक्कू यादव पिता दाऊ राम यादव उम्र 19 को समझाते हुए मारा था, जिससे आरोपी भतीजा आक्रोशित था, जिसने अपने भाई रोहित यादव उम्र 22 वर्ष के साथ चाचा को सबक सिखाने की ठानी और देर रात कुल्हाड़ी लेकर चाचा को ढूंढते घर पहुँचे, जहाँ चाची कुमारी बाई मिली पूछने पर उसने नदी की तरफ मछली पकड़ने जाने की बात बताई तब आरोपी अपने चाचा को ढूंढ़ते हुए जा रहे थे, कि रास्ते मे ही उनकी मुलाकात चाचा से हो गई, और गुस्से में अंधे हो चुके भतीजों ने कुल्हाड़ी से वारकर अपने चाचा को मौत के घाट उतार दिया, जिसके बाद उन्हें लगा कि चाची उनके बारे में पुलिस को बता देगी तो उन्होंने वापस घर जाकर अपनी चाची पर भी ताबड़तोड़ हमला कर दिया।
जिसे मरा समझ कर दोनों फरार हो गए। मामले की तहकीकात में जुटी पुलिस को अहम सुराग मिले वही घायल चाची ने ही आरोपियों के विषय मे पुलिस को महत्वपूर्ण जानकारी दी, जिसके बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों को घेराबंदी कर गिरफ्तार कर लिया, जिन्होंने हत्या की पूरी वजह सामने रख दी। मामले में पुलिस ने दोनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत में ले लिया है और अग्रिम कार्रवाई में जुट गई है।
जानिए क्या था पूरा मामला
मृतक तिरिथ राम यादव सेंट्रिंग ठेकेदारी का काम करता था। वह अपनी पत्नी के साथ चिल्हाटी में रहता था। बीती रात दोनों खाना खाकर सो गए,जिसके बाद सोमवार की सुबह पड़ोसियों ने घर के सामने तिरिथ यादव की खून से सनी लाश देखी, और जब घर के अंदर जाकर देखातो मृतक कीपत्नी की भी घायल अवस्था मे तड़पती मिली। जिसके बाद लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी. और घायल महिला को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। वही हत्या की जानकारी लगते ही सरकंडा पुलिस और फॉरेंसिक, फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट के साथ ही डॉग स्क्वायड की टीम मौके पर पहुंच हत्या की गुत्थी सुलझाने जुट गए हैं।